उखेड़ा (विल्ट)

       आरम्भ में नीचे की पत्तियां किनारों से पीली पड़नी शुरू होती हैं और यह पीलापन अन्दर की तरफ बढ़ना आरम्भ हो जाता है और कुछ ही समय में पूरी की पूरी पत्ती पीली पड़ कर गिर जाती है। यह रोग नीचे से आरम्भ होकर ऊपर की तरफ बढ़ता है और कुछ ही समय में पूर्ण पौधा या पौधे का कुछ भाग खत्म हो जाता है। ऐसे पौधों को उखाड़ कर उनकी जड़ों को लम्बार्इ की तरफ चीर कर देखा जाये तो भूरे रंग की धारी-सी दिखार्इ देती है जो कि पौधे को खुराक नहीं जाने देती और पौधा सूख जाता है। यह रोग देसी कपास में पाया जाता है।