जलवायु

तोरिया तथा सरसों हल्की से लेकर भारी दोमट मिट्टी में अच्छी होती है। 

राया हर प्रकार की मिट्टी में उगाया जा सकता है। परंतु इसके लिए हल्की दोमट मिट्टी अच्छी होती है। 

तारामीरा अधिकतर बहुत हल्की मिट्टी में उगाया जाता है। तोरिया तथा सरसों 25 से 40 सैं.मी. वर्षा वाले क्षेत्रों में अच्छी तरह उगते हैं। तारामीरा कम वर्षा वाले और राया मध्यम से अधिक वर्षा वाले क्षेत्रों में उगाए जाते हैं।