सरसों

सरसों की फसल के लिए मौसम आधारित सलाह 


यदि पानी उपलब्ध हो तो पाले  के प्रभाव को कम करने के लिए सरसों की फसल में आवश्यकतानुसार सिंचाई करे |

यदि पानी उपलब्ध न हो तो सरसों की फसल के आसपास जिस और से हवा आ रही है उस और से धुआं करे ताकि फसल के आसपास तापमान में बढ़ोतरी हो सके तथा पाले का फसल पर कोई नकरात्मक प्रभाव न पड़े |